खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"आता तो सभी भला थोड़ा बहुत कुछ, जाता बस दो ही भले दलिद्दर और दुख" शब्द से संबंधित परिणाम

आता तो सभी भला थोड़ा बहुत कुछ, जाता बस दो ही भले दलिद्दर और दुख

आती हुई चीज़ थोड़ी हो या बहुत सब का आना अच्छा और जाने वाली चीज़ों में दलिद्दर और दुख के अतिरिक्त किसी का जाना भला नहीं मालूम होता

आता जाता कुछ नहीं

कुछ नहीं जानता, अनपढ़ है

सभी-कुछ

आता-जाता

यात्री, रस्ता चलने वाला, पथिक, मुसाफ़िर, राहरौ

डोला आता है और जनाज़ा जाता है

शरीफ़ ज़ादी इज़्ज़त-ओ-एहतिराम से ब्याह कर घर में आती है और मर कर निकलती है

और कुछ नहीं तो

बहुत कुछ

भरपूर, अधिक संख्या या मात्रा में

कर भला हो भला, अंत भले का भला

भला करने वाला लाभ में रहता है, भलाई का अंत शुभ होता है, भला करने वाले का अंत में भला ही होता है

कुछ-बहुत

कुछ और ही 'आलम होना

दगरगों होना, हालत में तबदीली आना

ख़ुद भले अपना घर भला

गोशा नशीन फ़र्द की निसबत कहा जाता है

कबूतर-ख़ाने का सा हाल है, एक आता है, एक जाता है

वहाँ कहते हैं जहाँ बहुत से नौकर हों

एक से दो भले

अकेले से दुकेला होना हर हाल में बहुत अच्छा है, किसी के साथ रहना अकेले रहने से अच्छा है (अधिकतर यात्रा की हालत में)

दिन भले आएँगे तो घर पूछते चले आएँगे

जब भाग्य अच्छा होता है तो काम अपने आप बन जाते हैं एवं हालत सुधर जाती है

और-कुछ

अलग, मुख़्तलिफ़, पहले से बदला हुआ, कुछ अलग

भजन और भोजन एकांत में भले

दुआ और खाना अकेले में अच्छे होते हैं

कुछ नहीं आता है

कुछ यूँ ही सा

ये अपना ही राग गाए जाता है

ये अपने ही मतलब की कहे जाता है

कातना तो आता नहीं पोनियाँ तो बनाने लगी

चर्ख़ा कातना आसान है पूनी बनाना मुश्किल है, ऐसी औरतों की निसबत बोलते हैं जिन को आसान सा काम नहीं आता लेकिन मुश्किल काम करने का दावा करती हैं

सारा माल जाता जानिये तो आधा दीजिये बाँट

अगर तमाम माल का नुक़्सान होता नज़र आए और आधा देने से आधा बच जाये तो आधा दे देना चाहिए कि इसी में फ़ायदा है

ये मुर्ग़ लंडोरा ही भला

ऐसे फ़ायदे से जिस में नुक़्सान का ख़तरा हो दस्तबरदार होजाना ही बेहतर है, रुक : बख़्शो बी बिल्ली चूहा लंडोरा ही भला

लिया ही नहीं जाता

किसी तरह क़ाबू में नहीं आता, किसी तरह धोके या धमकी में नहीं आता

जाता धन देखिये तो आधा लीजिये बाँट

रुक : सारा जाता देखिए तो आधा लीजीए बांट

लिबास ही नहीं जाता

कुत्ता घास खाए तो सभी पाल लें

यदि काम सरल हो जाए तो सब ही कर लें, सरल काम सब कर लेते हैं, शौक़ में अगर कुछ ख़र्च न हो तो सभी करें

साँसा भला न साँस का और बान भला न काँस का

फ़िक्र थोड़ी देर की भी बड़ी होती है बाण कांस का अच्छा नहीं होता

थोड़ा-बहुत

थोड़ा या थोड़े से कुछ अधिक, किसी क़दर, थोड़ा सा

जो मुँह में आता है बक जाता है

हाँ और भला का फ़र्क़

ये तो कुछ बात नहीं

۔ये ग़लत है ।

माँ मारे और माँ ही पुकारे

अपनों की सख़्ती भी बरी नहीं मालूम होती, अपना कितनी ही सख़्ती करे फिर अपना ही कहलाएगा

चियूँटियों को मौत ही का रेला बस है

शेर का एक ही भला

बहादुर लड़का एक ही काफ़ी है

एक तो मुआ अन-भाया था, दूसरे सही साँझ आता था

किसी दुराचारिणी स्त्री का अपने पति अथवा किसी अन्य प्रेमी के संबंध में कथन कि पहले तो वह मुझे पसंद नहीं था और फिर शाम से ही आकर अड्डा जमाता था

दिन भले ही न हो जाएँ या फिर भी न जाएँ

अगर काम हो जाये तो नसीबा ही ना जाग जाये

भले का ज़माना ही नहीं

शरीफ़ व्यक्ति के लिए आज-कल हर तरह मुसीबत और परेशानी है

कातना तो आता नहीं पोनी तो बनाने लगी

चर्ख़ा कातना आसान है पूनी बनाना मुश्किल है, ऐसी औरतों की निसबत बोलते हैं जिन को आसान सा काम नहीं आता लेकिन मुश्किल काम करने का दावा करती हैं

भागते भूत की लँगोटी ही बहुत है

जाती हुई चीज़ में से जितना जुज़ु मिल जाये ग़नीमत है

साझा जोरू ख़सम का ही भला

ख़ावंद बीवी की शराकत ही बेहतर है, किसी और कर शिरकत अच्छी नहीं होती

किसी का कुछ नहीं जाता

किसी का कुछ क्षति नहीं होता, अपना ही क्षति, हानि होता है

कुछ तो गेहूँ गीले, कुछ जंदरी ढीली

बहाने करने वाली औरत के संबंधित कहते हैं, काम न करने के सौ बहाने

मेरा बस चले तो तुझे कच्चा खा जाऊँ

निहायत ग़ुस्से की हालत में कहते हैं

रंग-ढंग कुछ और होना

हालत दूसरी होना, नक़्शा दूसरा होना, नया अंदाज़ होना

हगना थोड़ा और पट पट बहुत

काम थोड़ा करना और शोर बहुत मचाना

और नहीं तो

बस-बस

काफ़ी है, इतना बहुत है, और अधिक किसी चीज़ की आवश्यकता नहीं

घर के खीर खाएँ और देवता भला मनाएँ

नेकी वो है जिस से दूसरों को फ़ायदा पहुँचिए, औरों के नाम से अपना काम निकालना या औरों पर एहसान धर के अपना मक़सद हासिल करना

सर सलामत है तो बहुत मिल जाएंगे

मुँह ही मुँह मारे और तौबा-तौबा पुकारे

ख़ुद ही सज़ा दे ख़ुद ही पनाह मांगे, अपना इल्ज़ाम मज़लूम के सर थोपे

मेरी ही बिल्ली और मुझ से ही म्याऊँ

रुक : मेरी बिल्ली और मुझी से मियाऊं

इंसान ही तो है

मनुष्य से भूल-चूक हो ही जाती है

कुछ और 'आलम है

यहाँ तो जग ही डूबा है

एक व्यक्ति ग़लती या भूल-चूक करे तो दूसरे उसे समझाएँ, जब सब ही ग़लती करें तो कौन समझाए

पीछे कुछ और मुँह पर मुमानी

मुंह पर तारीफ़ और ग़ीबत में बुराई

कूए के पास प्यासा आता है कुवा नहीं जाता

ग़रज़मंद को चाहिए कि जहां ग़रज़ निकले वहां जाये, बेग़र्ज़ को क्या पेड़ पड़ी है

रात थोड़ी और साँग बहुत

शराबियों से दूर ही भले

सारा धन जाता देखिये तो आधा दीजिये बाँट

ये अपना ही राग गाता जाता है

ये अपने ही मतलब की कहे जाता है

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में आता तो सभी भला थोड़ा बहुत कुछ, जाता बस दो ही भले दलिद्दर और दुख के अर्थदेखिए

आता तो सभी भला थोड़ा बहुत कुछ, जाता बस दो ही भले दलिद्दर और दुख

aataa to sabhii bhalaa tho.Daa bahut kuchh, jaataa bas do hii bhale daliddar aur dukhآتا تو سَبھی بَھلا تھوڑا بَہُت کُچھ، جاتا بَس دو ہی بَھلے دَلِدَّر اَور دُکھ

अथवा - आता तो सब ही भला थोड़ा बहुत कुछ, जाते दो ही भले दलिद्दर और दुख, आता तो सब ही भला, थोड़ा बहुता, कुच्छ, जाते तो दो ही भले, दालिद्दर और दुःख

कहावत

आता तो सभी भला थोड़ा बहुत कुछ, जाता बस दो ही भले दलिद्दर और दुख के हिंदी अर्थ

 

  • आती हुई चीज़ थोड़ी हो या बहुत सब का आना अच्छा और जाने वाली चीज़ों में दलिद्दर और दुख के अतिरिक्त किसी का जाना भला नहीं मालूम होता
rd-app-promo-desktop rd-app-promo-mobile

آتا تو سَبھی بَھلا تھوڑا بَہُت کُچھ، جاتا بَس دو ہی بَھلے دَلِدَّر اَور دُکھ کے اردو معانی

 

  • آتی ہوئی چیز تھوڑی ہو یا بہت سب کا آنا اچھا اور جانے والی چیزوں میں دلدر اور دکھ کے سوا کسی کا جانا بھلا نہیں معلوم ہوتا

सूचनार्थ: औपचारिक आरंभ से पूर्व यह रेख़्ता डिक्शनरी का बीटा वर्ज़न है। इस पर अंतिम रूप से काम जारी है। इसमें किसी भी विसंगति के संदर्भ में हमें dictionary@rekhta.org पर सूचित करें। या सुझाव दीजिए

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (आता तो सभी भला थोड़ा बहुत कुछ, जाता बस दो ही भले दलिद्दर और दुख)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

आता तो सभी भला थोड़ा बहुत कुछ, जाता बस दो ही भले दलिद्दर और दुख

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
बोलिए

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone

Recent Words