खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"खील उड़ कर मुँह में न जाना" शब्द से संबंधित परिणाम

खील उड़ कर मुँह में न जाना

मुँह तक एक खील उड़ कर न जाना

कुछ ना खाना, खाने को कुछ ना मिलना, फ़ाक़े से होना

मुँह में खील उड़ कर न जाना

खाने को कुछ ना मिलना, फ़ाक़ा होना

मुँह में भूनी खील तक न जाना

रुक : मुँह में उड़कर खेल का दाना तक ना जाना, कुछ ना खाना

मुँह पर खील उड़ के न जाना

कुछ ना खाना, बिलकुल ना खाना, मुँह तक खाने की कोई चीज़ ना जाना

मुँह पे खील उड़ के न जाना

कुछ ना खाना, बिलकुल ना खाना, मुँह तक खाने की कोई चीज़ ना जाना

खील उड़ कर मुँह में न पहुँचना

मुँह में ऐक खील तक उड़ कर न जाना

निहायत फ़ाक़े से होना, बिलकुल कुछ खाया पिया ना होना

खील ऊड़ कर मुँह में न पहुँचना

मुँह में ऐक खील तक उड़ कर न पहुँचना

निहायत फ़ाक़े से होना, बिलकुल कुछ खाया पिया ना होना

मुँह में उड़ कर खील का दाना न जाना

बिलकुल फ़ाक़ा होना, कुछ भी ना खाना

कर पानी न मुँह पानी

यह कहावत गंदे व्यक्ति के संबंधित कहते हैं, जो हाथ मुंह भी न धोए, ऐसा गंदा लड़का जो कभी न हाथ धोता है, न मुँह

मुँह काला कर जाना

लज्जावश दूर हो जाना, लज्जा या तिरस्कार के डर से चले जाना, जा कर दुबारा न आना

मुँह फेर कर जाना

नाराज़ हो कर जाना, रूठ कर जाना

उड़ के खील भी मुँह में न जाना

चाट कर उड़ जाना

फ़ायदा और लाभ उठा कर गुम हो जाना

कर बँध जाना

मुँह फेर कर न देखना

खील बताशों का मुँह

शेखचिल्ली (एक अफ़सानवी किरदार) एक मर्तबा कुछ माल चुरा कर लाया, उस की माँ को अंदेशा था कि ये चोरी का हाल छिपा नहीं सकेगा लिहाज़ा इस ने माल छिपा दिया और खीलें बताशे इस तरह गिराए कि शेखचिल्ली समझे कि ये आसमान से गिरे हैं, तहक़ीक़ात होने पर शेखचिल्ली ने चोरी का इक़बाल करलिया और बताया कि जिस दिन खेल बताशों का मीना बरसा था उस दिन मैंने चोरी की थी, ये मिसल इस मौक़ा पर मुस्तामल है जब कोई ग़ैर मुईन ज़माना बताए या ऊओट पटांग बात करे

वॉक-आउट कर जाना

मुँह फेर कर न देखना

बेतवज्जुही और बेपर्वाई करना

मुँह पसार कर रह जाना

रुख़ कर जाना

मुड़जाना, ख़म खा जाना (लोहे या लक्कड़ी वग़ैरा के लिए मस्ताल)

ख़ता कर जाना

ग़लत हो जाना, दुरुस्त ना निकल

किया और कर न जाना, मैं होती तो कर दिखाती

काम पूरा किया परंतु शिष्टता या सभ्यता से नहीं क्या, हमारी राय या सुझाव मानते तो यह हानि न होती

हँका कर ले जाना

पाँव उठा कर जाना

जल्द जलद क़दम उठाना, तेज़ रफ़्तारी के साथ चलना, बड़े बड़े क़दम रखना, घिसट कर ना चलना

हँस कर टाल जाना

आँख बराबर न कर सकना

आँख न मिला पाना, शर्मिंदा होना

जी में घर कर जाना

रुक: जी में बैठना

मुँह खोल कर रह जाना

۱۔ कुछ कहते कहते ना कहना, कुछ कहने के लिए मुँह खोलना मगर फिर चुप रहना, हैरत-ज़दा रह जाना

मुँह पसार कर रह जाना

मुँह फाड़ कर रह जाना, मुतहय्यर रह जाना, हैरान रह जाना, किसी चीज़ की आरज़ू में तकते रह जाना

बोटियाँ नोच कर खा जाना

रुक : बूटीयां नोचना

साफ़ कर जाना

बिलकुल चट कर जाना, सब खा जाना

उड़ कर मुँह में दाना न जाना

कुछ ना खाना, भूका होना, बे ग़िज़ा रहना, बिल्कुल ना खाना

मुल्क-ए-'अदम की तरफ़ कूच कर जाना

रुक : मुल्क-ए-अदम को सुधारना

मुँह में खील उड़ कर न पड़ना

खाने को कुछ ना मिलना, फ़ाक़ा होना

पाँव अमास कर जाना

जल-भुन कर ख़ाक हो जाना

रुक : जल भिन्न कर कबाब होजाना

ख़ाना कर जाना

टेढ़ा होना, ख़म होना (कमान के लिए मुस्तामल)

दाएँ-बाएँ दे कर निकल जाना

चकमा या धोखा दे कर निकल जाना

नाप-नाप कर देखा जाना

जाँच परख कर अंदाज़ा करना, पड़ताल करना

आँख उठा कर न देखना

डर या भय से किसी पर दृष्टि न डालना, बिना भय या डर के सामने न जाना

उठ कर पानी न माँगना

बहुत दुर्बल होना, कमज़ोरी के बाइस न उठ सकना

घुल कर काँटा हो जाना

नैन के पाँव कर जाना

आँखों को पांव बना कर जाना, सर के बल जाना, निहायत शौक़ से जाना

सूँट मार कर निकल जाना

ख़ामोशी से चले जाना, चुपके से चले जाना

हज़्म कर जाना

۳۔ छुपा लेना, दबा लेना नीज़ इग़्माज़ बरतना, चशमपोशी करना

हज़्म कर जाना

۵۔किसी किताब या फ़लसफ़े या इलम को अच्छी तरह ज़हन नशीन कर लेना, ज़हन और दिल में उतारना, पूरी तरह समझना, अपने अंदर जज़ब कर लेना

लुक़्मा कर जाना

निगल जाना, चट कर जाना, खा जाना, हड़प कर जाना

मुँह देख कर रह जाना

हाथों-हाथ उठा कर ले जाना

टाँच न उठाई जाना

किसी की एकड़ फ़ूं की सहार ना होना, झगड़े या तकरार की बर्दाश्त ना होना

दिल में घर कर जाना

हड़प कर जाना

निगल जाना, अंदर उतार जाना, एक बार कुल किसी चीज़ का खा जाना

मैदान ख़ाली कर जाना

जगह छोड़ना, परे हट जाना , दस्तबरदार होना (उमूमन मुकाबले से)

नज़र बचा कर जाना

स्वयं को दूसरों की नजरों से बचाना, बच निकलना, चकमा देना

दुनिया में नाम कर जाना

'अश 'अश कर जाना

बेसाख़ता वाह-वा कहना या तारीफ़ करना

जल-भुन कर रह जाना

तिलमिला कर रह जाना, कुछ ना कर सकना,निहायत नागवार गुज़रना,भस्म होजाना

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में खील उड़ कर मुँह में न जाना के अर्थदेखिए

खील उड़ कर मुँह में न जाना

khiil u.D kar mu.nh me.n na jaanaaکِھیل اُڑ کَر مُنْہ میں نَہ جانا

کِھیل اُڑ کَر مُنْہ میں نَہ جانا کے اردو معانی

 

  • کوئی چیز نہ کھانا ، کچھ مُن٘ہ میں نہ پڑنا .

सूचनार्थ: औपचारिक आरंभ से पूर्व यह रेख़्ता डिक्शनरी का बीटा वर्ज़न है। इस पर अंतिम रूप से काम जारी है। इसमें किसी भी विसंगति के संदर्भ में हमें dictionary@rekhta.org पर सूचित करें। या सुझाव दीजिए

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (खील उड़ कर मुँह में न जाना)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

खील उड़ कर मुँह में न जाना

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
बोलिए

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone

Recent Words