खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"वक़्त है" शब्द से संबंधित परिणाम

वक़्त है

ज़माना है , मौक़ा है, मोहलत है, महल है

वक़्त वक़्त की बात है

स्थितियाँ बदलती रहती हैं, समय का संयोग है, अच्छे और बुरे समय आते-जाते रहते हैं, (किसी बड़े बदलाव के अवसर पर या आम तौर पर बुरे समय में कहते हैं)

ये वक़्त और है

वक़्त गुज़र जाने के बाद पिछले वक़्त को याद करते हुए कहते हैं, अच्छे दिनों को याद करते हुए कहते हैं

वो वक़्त आ गया है

वह समय है, ऐसा ख़राब और बदतर समय है

वक़्त निकल जाता है बात रह जाती है

किसी का काम नहीं रुकता परंतु मुसीबत के वक़्त जो काम न आए उसके बुरे व्यवहार या असहयोग की शिकायत रह जाती है

बात रह जाती है वक़्त गुज़र जाता है

विपत्ति का समय बीत जाता है किंतु व्यक्तियों के व्यवहार याद रह जाते हैं

वक़्त टल जाता है बात रह जाती है

वक़्त तो गुज़र जाता है मगर सुलूक याद रहता है

वक़्त सब कुछ करा लेता है

अवसर और आवश्यकता के समय मनुष्य वह काम कर लेता है जो वह प्राय: अर्थात आमतौर पर नहीं कर सकता

वक़्त गुज़रे पीछे 'अक़्ल आती है

काम बिगड़ने के बाद उपाय समझ में आता है

वक़्त गुज़र जाता है लेकिन बात रह जाती है

मुसीबत का वक़्त हमेशा नहीं रहता लेकिन दोस्त दुश्मन की पहचान हो जाती है, किसी का कोई काम नहीं ुरकता ना करने वाले की बात दिल को लग जाती है

वक़्त पर रोना बे वक़्त की हँसी से अच्छा होता है

हर बात अपने मौके़ और महल पर अच्छी होती है

वक़्त पर भाग जाना मर्दानगी नहीं है

लड़ाई और मुसीबत के समय हट जाना कायरता है

वक़्त पर सब कुछ करना पड़ता है

जब मौक़ा आ जाए और ज़रूरत पड़ जाए तो जो कुछ हो सकता हो करना चाहिए, मजबूरी में हर काम करना ही पड़ता है

खोटा पैसा खोटा बेटा बुरे वक़्त पर काम आता है

अपनी निकम्मी चीज़ भी कभी आवश्यकता के समय काम आ जाती है

वक़्त पर गधे को बाप बनाना पड़ता है

मुसीबत या ज़रूरत के समय घटिया से घटिया और छोटे से छोटे की ख़ुशामद करना पड़ती है

वक़्त पर जो हो जाए सो ठीक है

समय पर जो कुछ हो जाए बेहतर है क्यूँकि ऐसे समय पर मनुष्य घबरा जाता है

राग भी अपने वक़्त का अच्छा होता है

हर चीज़ अपने समय पर अच्छी होती है

वक़्त पर गाँठ का पैसा ही काम आता है

मनुष्य को अपव्यय अर्थात आवश्यकता से अधिक ख़र्च नहीं करना चाहिए बल्कि रुपया जमा करना चाहिए

क़द्र खो देता है हर वक़्त का आना जाना

बहुत मेल मिलाप और बेतकल्लुफ़ी हो तो वो इज़्ज़त नहीं रहती जो कभी कभी मिलने से होती है

ज़रूरत के वक़्त गधे को बाप बनाना पड़ता है

मजबूरी में हर किसी की चापलूसी करनी पड़ती है, लाचारी की स्थिति में आदमी को सब कुछ करना पड़ता है, मजबूरी के समय अपने से निम्न व्यक्ति की भी चापलूसी करना पड़ती है

खोटा पैसा खोटा बेटा वक़्त पर काम आता है

रुक : खोटा पैसा बुरे वक़्त के काम आता है

खोटा बेटा खोटा पैसा बा'ज़ वक़्त काम आ जाता है

ज़रूरत के वक़्त नाकारा और निकम्मी चीज़ भी काम आ जाती है, किसी वस्तु को निकम्मी समझकर मत फेंको, किसी समय वह भी काम आ सकती है

वक़्त पड़े पर गधे को बाप बना लिया जाता है

लाचारी में अदना से अदना की ख़ुशामद करनी पड़ती है (मजबूरी के मौके़ पर बोलते हैं

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में वक़्त है के अर्थदेखिए

वक़्त है

vaqt haiوَقت ہے

वाक्य

वक़्त है के हिंदी अर्थ

  • समय है; अवसर है, मोहलत है, जगह है

وَقت ہے کے اردو معانی

  • زمانہ ہے ؛ موقع ہے ، مہلت ہے ، محل ہے ۔

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (वक़्त है)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

वक़्त है

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
बोलिए

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone